गांव के उच्च बच्चे एवं उनके रचनात्मक कार्य एवं उनकी सोच । village,s highly children and their creative work and their thought.

गांव के उच्च बच्चे एवं उनके रचनात्मक कार्य एवं उनकी सोच ।  village,s highly children and their creative work and their thought.



गांव की बच्चों की प्रकृति शहर के बच्चों से बिल्कुल अलग होती है । गांव के बच्चे बिल्कुल साधारण होते हैं , शांत होते हैं , और हमेशा कारगर होते हैं । गांव के बच्चों में भौतिक ताकत भी अधिक होती है । गांव के बच्चों में कुछ नया जानने और करने की इच्छा होती है ।

अब बात करते हैं बचपन से , गांव के बच्चे जब बचपन में होते हैं तो वो गांव के वातावरण में तो ढल ही जाते हैं । गांव के भाषा और शांत वातावरण , शुद्ध हवा और हरा-भरा की भी आदत हो जाती है ।  गांव के बच्चे हमेशा अपने परिवार के करीब होते हैं ।  और वे अपने परिवार से बहुत प्यार भी करते हैं । गांव के बच्चों में दूसरे के प्रति जो प्रेम आदर होता है । वो आदर आपको कभी भी शहर के बच्चों में नहीं देखने को मिलेगा । गांव के बच्चों की ऐसी प्रकृति होती है कि वे किसी भी चीज को जल्दी सीखते हैं ।  और किसी भी माहौल में आसानी से ढल जाते हैं । उनका बचपन बहुत ही प्यारा होता है । और वे बचपन में ही मेहनत , पैसा , शौक सब कुछ जान जाते हैं ।

गांव के बच्चों की उम्र जब गांव से बाहर निकलने की होती है । तब तक वो सब कुछ सीख लेते हैं । वे कभी भी हिम्मत नहीं हारते । और किसी भी काम को बड़ी मेहनत से करते हैं ।

गांव के बच्चों का वार्तालाप बिल्कुल आसान होता है । वो बहुत अच्छे से बात भी करते हैं । और वे अपनी बातो से दूसरों का मनोरंजन भी करते हैं ।

एक सर्वे अनुसार ऐसा कहा जाता है कि गांव के बच्चे जितने सफल होते हैं , उतने शहर के बच्चे सफर नहीं होते । क्योंकि वे अपने किसी भी काम को बड़ी श्रद्धा से करते हैं । और अपनी पूरी जान लगा देते हैं ।


                     देश के बच्चे ही देश को भविष्य हैं


दोस्तो आप पढ़ रहे है hellodhiraj.in

आपको यहां पर मिलता है सबसे बेहतर जानकारी । बेहतरीन तरीको से जो आपको हमेशा याद रहेगा । और आपके पढ़ाई और प्रतियोगी परीक्षा में यहां से बहुत सारी जानकारियां मिलेगी ।

आप मेरे facebook page और youtube पर आ सकते है ।

facebook - www.facebook.com/dhirajkumarraj43
youtube - www.youtube.com/dhirajisagreatthought

आपका धन्यवाद ••••
Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts