दिल्ली का चोर बाजार की कहानी , वहां का बाजार , बाजार का तरीका , बाजार का समय और फायदे और समस्या । The story of Delhi's thief market, market there, market method, time of market and benefits and problems.

दिल्ली का चोर बाजार की कहानी , वहां का बाजार , बाजार का तरीका , बाजार का समय और फायदे और समस्या ।     The story of Delhi's thief market, market there, market method, time of market and benefits and problems.



आपने अभी तक बहुत तरह के बहुत सारे कहानियां सुनी होगी । लेकिन आज मैं आपको दिल्ली के प्रसिद्ध चोर बाजार की कहानी सुनाने वाला हु । जिसमें आप जगह के बारे में और बाजार के बारे में जान पाएंगे ।


कहानी यहां से शुरु होती है दिल्ली चोर बाजार दिल्ली में है । जो जामा मस्जिद के आगे लगती है , और दिल्ली लाल किला के सामने । यह बाजार पूड़ी भारत में प्रसिद्ध है । एक बात जानना बहुत जरूरी है कि , दिल्ली में बस में या पब्लिक प्लेस में चोर बहुत आसानी से लोगों के पॉकेट से मोबाइल चुरा लेते हैं । और ये सब भीड़ का फायदा उठाते है । और वह लोग जुगेड़ी , नसेरी , शराबी होते हैं । चोरी की हुई मोबाइल कम दाम में बाजार के दुकानदारों को बेच देते हैं । वही मोबाइल और पुरानी यांत्रिक चीजें बाजार में बिकती है ।


बाजार का तरीका बिल्कुल साधारण है । बाजार सप्ताह में एक दिन लगती है । सुबह-सुबह ये बात सब लोग जानते हैं । इसलिए जिनको सस्ते में कोई समान खरीदना होता है , वह वहां पर पहुंच जाते हैं । और वहां पर बहुत सारे दुकानदार खुले में नीचे बैठ कर अपनी आगे सामान रखे होते हैं । जिनको समान लेना होता है वह समान देखते हैं , चेक करते है , और पैसे देकर समान घर ले जाते हैं ।


बाजार से सामान खरीदने पर यही फायदा है कि आपको समान सस्ते दामों पर मिल जाता है । लेकिन आपको घाटा बहुत बड़ा लग सकता है । अगर कोई सामान की शिकायत थाने में की हो तो आपको जेल हो सकती है । इसलिए लोगो को इस बात ध्यान रखनी चाहिए ।



बाजार में बहुत कम ही नई चीजें होती है बाकी सब पुराने चीजें ही ज्यादा मिलते हैं



दोस्तो आप पढ़ रहे है hellodhiraj.in

आपको यहां पर मिलता है सबसे बेहतर जानकारी । बेहतरीन तरीको से जो आपको हमेशा याद रहेगा । और आपके पढ़ाई और प्रतियोगी परीक्षा में यहां से बहुत सारी जानकारियां मिलेगी ।

आप मेरे facebook page और youtube पर आ सकते है ।

facebook - www.facebook.com/dhirajkumarraj43
youtube - www.youtube.com/dhirajisagreatthought

आपका धन्यवाद ••••
Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts