जरीब किसे कहते है ? गनट्री जरीब किसे कहते है ? Jarib kise kahte hai ? Gantree jarib kise kahte hai ?

जरीब पांच प्रकार के होते है । उसी में से एक है गनट्री जरीब । जो काफी प्रचलन यंत्र है । अक्सर अमीन लोग इसी जरीब को प्रयोग में लाते है । यह काफी प्रयोग में लाये जाने वाला जरीब है ।

जरीब किसे कहते है ? गनट्री जरीब किसे कहते है ? Jarib kise kahte hai ? Gantree jarib kise kahte hai ?
Jarib kise kahte hai ? Gantree jarib kise kahte hai ?


प्रशन - गनट्री जरीब की व्याख्या करें ।

उत्तर - यह लोहे का बना होता है । जिसमे पीतल के बने दोनों छोर पर मुठ ( हैंडल ) होते है । दोनों हैंडल के बीच में 100 कड़ी होते है । प्रत्येक कड़ी की लंबाई 7.92 इंच होते है । इस जरीब की लंबाई 22 गज , 66 फीट , 44 हाथ , 88 बीता , 792 इंच तथा लगभग 20 मीटर होता है । जरीब में कुल 9 फुलिया होते है । प्रत्येक 10 कड़ी पर एक-एक फुलिया लगी रहती है । 10 कड़ी पर एक नोक वाली फुलिया और 20 कड़ी पर दो नोक वाली फुलिया , 30 कड़ी पर तीन नोक वाली फुलिया , 40 कड़ी पर चार नोक वाली फुलिया और 50 कड़ी पर गोल फुलिया लगी रहती है । पुनः 60 कड़ी पर चार नोक वाली फुलिया , 70 कड़ी पर तीन नोक वाली फुलिया , 80 कड़ी पर दो नोक वाली फुलिया , 90 कड़ी पर एक नोक वाली फुलिया और 100 कड़ी पर हैंडल लगी होती है ।

जरीब किसे कहते है ? गनट्री जरीब किसे कहते है ? Jarib kise kahte hai ? Gantree jarib kise kahte hai ?
Jarib kise kahte hai ? Gantree jarib kise kahte hai ?


अतः जरीब चलाते समय ध्यान रखना होता है कि 50 कड़ी पर गोल फुलिया आगे है या पीछे है । जरीब का अगला मूठ पकड़कर चलने वाले को लीडर कहते है तथा पीछे से चलने वाले को फॉलोवर कहते है ।


दोस्तो आप पढ़ रहे है hellodhiraj.in

आपको यहां पर मिलता है सबसे बेहतर जानकारी । बेहतरीन तरीको से जो आपको हमेशा याद रहेगा । और आपके पढ़ाई और प्रतियोगी परीक्षा में यहां से बहुत सारी जानकारियां मिलेगी ।
आप मेरे facebook page और youtube पर आ सकते है ।

आपका धन्यवाद ••••
Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts