जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था?

जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?

जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?

महाभारत युद्ध के चौदहवें दिन जयद्रथ की रक्षा के लिए जयद्रथ को व्युह बनाकर सबसे पीछे रखा गया था। उस दिन घमासान युद्ध हुआ। युद्ब करते सूर्यास्त का समय निकट आता जा रहा था। लेकिन जयद्रथ को मारना असंभव जान पड़ता था। 
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?

तभी - भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन से कहा - अर्जुन दिग्गज वीरो के सामने रहते जयद्रथ को मारना असंभव हो रहा है। उसे धोखा देने के लिए मैं माया द्वारा सूर्य को अस्त होने से पहले ही छिपा देता हूं। सूर्यास्त होने जान जयद्रथ खुशी पूर्वक जब सामने आएगा तभी उसका वध कर डालना। लेकिन एक बात का ध्यान रखना। उसका सर पृथ्वी पर ना गिरने पाए।
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?

अर्जुन के पूछने पर श्री कृष्ण ने कहा - जयद्रथ के पिता को कोई संतान ना थी।
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?

 बहुत तपस्या के बाद जयद्रथ उत्पन्न हुआ उसका जन्म होते ही आकाशवाणी हुई। कि आपका यह पुत्र सुरवीर तथा बहुत भाग्यशाली होगा।  परंतु युद्ध क्षेत्र में कोई भी छत्रिय इसका सिर काट देगा। यही सुन उसके पिता ने उसी समय कहा था जो मेरे वीर पुत्र का सिर पृथ्वी पर गिराएगा। उसका भी सर एक सौ टुकड़ो में फट जायेगा। इसलिए जयद्रथ का सिर पृथ्वी पर गिरने न देना। बल्कि बानो द्वारा इसके पिता की गोद में गिरा देना।
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?
जयद्रथ के मृत्यु का क्या रहस्य था? Jayadrath ke mrityu ka kya rahasy thha?


Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts