कर्ण के मृत्यु में देवराज इंद्र की क्या भूमिका थी?

कर्ण के मृत्यु में देवराज इंद्र की क्या भूमिका थी? Karn ki mrityu mein devraj indra ki kya bhumika thhi?

कर्ण के मृत्यु में देवराज इंद्र की क्या भूमिका थी? Karn ki mrityu mein devraj indra ki kya bhumika thhi?
कर्ण के मृत्यु में देवराज इंद्र की क्या भूमिका थी? Karn ki mrityu mein devraj indra ki kya bhumika thhi?

देवराज इंद्र ने भी अर्जुन के प्राण के रक्षा कि खातिर ब्राह्मण वेश धारण कर छल से कर्ण का कवच कुंडल दान मे ले लिए थे। बदले में कर्ण ने इंद्र से अमोद शक्ति की मांग की थी। जिस पर इंद्र ने कर्ण को अमोद शक्ति देते हुए कहा था कि इसे एक ही प्रतापी शत्रु पर चला सकोगे। उसे मारने के बाद शक्ति मेरे पास वापस आ जाएगी। कर्ण ने उस अमोध शक्ति को अर्जुन के लिए सुरक्षित रखा था।
कर्ण के मृत्यु में देवराज इंद्र की क्या भूमिका थी? Karn ki mrityu mein devraj indra ki kya bhumika thhi?
कर्ण के मृत्यु में देवराज इंद्र की क्या भूमिका थी? Karn ki mrityu mein devraj indra ki kya bhumika thhi?

Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts