युधिष्टिर और दुर्योधन के बीच हुए जुआ की चाल के समय श्री कृष्ण कहाँ थे?

युधिष्टिर और दुर्योधन के बीच हुए जुआ की चाल के समय श्री कृष्ण कहाँ थे? Yudhishthir aur duryodhan ke bich huye jua ki chal ke samay shri krishna kahan thhe?

युधिष्टिर और दुर्योधन के बीच हुए जुआ की चाल के समय श्री कृष्ण कहाँ थे? Yudhishthir aur duryodhan ke bich huye jua ki chal ke samay shri krishna kahan thhe?

युधिष्टिर और दुर्योधन के बीच हुए जुआ की चाल के समय श्री कृष्ण जी द्वारिका में नही थे। श्री कृष्ण जी कहते है जिस समय जुआ की चाल चल रही थी उस समय मैं द्वारका में नहीं था।  बल्कि शिशुपाल का मित्र मद्रराज शाल्व अपने मित्र की मृत्यु सुनकर द्वारिका पुरी पर चढ़ाई किये हुये था। मैं जब शाल्व का वध करके द्वारिका पुरी पहुंचा तब इस दुखद घटना को सुनते ही आप लोग के पास चला आया वरना मेरे रहते जुआ की चाल नहीं होती। फिर युधिष्टिर को समझा बुझा कर वापस द्वारिका पुरी गए।
युधिष्टिर और दुर्योधन के बीच हुए जुआ की चाल के समय श्री कृष्ण कहाँ थे? Yudhishthir aur duryodhan ke bich huye jua ki chal ke samay shri krishna kahan thhe?

Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts