जमीन का खतियान कैसे देखे और जमीन का खतियान कैसे पढ़े और समझे

जमीन का खतियान कैसे देखे और जमीन का खतियान कैसे पढ़े और समझे

जमीन का खतियान कैसे देखे और जमीन का खतियान कैसे पढ़े और समझे

हैल्लो दोस्तो आज के इस Article में मैं आपको बताने वाला हूँ कि आप खतियान कैसे देख सकते है या खतियान कैसे देखते है। आज के इस पूरी Article में मैं आपको बताने वाला हूँ।


खतियान कैसे देखे | खतियान कैसे देखते है
खतियान कैसे Download करे | खतियान कैसे Download करते है


आज आप जानेंगे अपने जमीन का खतियान कैसे देखे और खतियान कैसे Download करे। इससे पहले के Article में मैंने बताया है की कैसे आप खतियान को Download कर सकते है और तो और मैंने खतियान Download करने के पाँच तरीके बताए है अगर आप अभी तक नही पढ़े है या अभी पढ़ना चाहते है तो अभी Link पर Click कर के पढ़ लीजिए आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।


Link to Read खतियान कैसे Download करते है - LINK


आज के इस Article में मैं शुरू कर रहा हूँ जमीन का खतियान कैसे देखते है। जमीन का खतियान देखने से पहले कुछ जमीन से जुड़े शब्द है जिनको आपको जान लेना चाहिए कि इन शब्दों का क्या अर्थ होता है। तब आपको देखकर आसानी से समझ में आ जायेगी और उसके बाद आप जब कभी भी जमीन के किसी कागज को देखेंगे तो उसमें से जुड़ी बहुत सी बातें आपको देखने भर से समझ में आ जायेगी। इसलिए शब्दो का अर्थ जानना बहुत जरूरी है। 


शब्द एवं उनके शाब्दिक अर्थ हिंदी में :-


  1. अधिकार अभिलेख
  2. राजस्व
  3. रैयत का नाम
  4. राजस्व थाना नंबर
  5. मौजा
  6. खाता नंबर
  7. खेसरा नंबर
  8. खेत चौहदी
  9. किस्म जमीन
  10. रकवा
  11. दखल या दखल का स्वरूप
  12. नवैयात जमाबंदी नंबर



अधिकार अभिलेख - अधिकार अभिलेख शब्द का अर्थ है, एक प्रकार का प्रमाण पत्र जिसमे किसी भी व्यक्ति के अधिकार का प्रमाण पत्र हो। जब आप खतियान Download करेंगे तो सबसे ऊपर अधिकार अभिलेख लिखा होता है। इसका मतलब होता है कि ये खतियान जिस किसी व्यक्ति का है वो इस अभिलेख का मालिक है। इसलिए ऊपर में अधिकार अभिलेख लिखा होता है।


राजस्व - राजस्व का अर्थ होता है राज्य की आमदनी या राज्य की आय। आप खतियान में सबसे ऊपर देखेंगे कि लिखा है राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग इसका मतलब होता है कि आप जिस राज्य में रहते है उस राज्य के राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग द्वारा इस इस पत्र को निर्गत किया गया है और खतियान और भूमि संबंधी अन्य कार्य का संपादन भी यही से होता है।


रैयत का नाम - रैयत का नाम का अर्थ है किसान का नाम। अगर आप कही भी रैयत का नाम लिखा हुआ पाते है तो इसका अर्थ होता है उस जगह पर किसान का नाम है या लिखना होगा। किसान शब्द से सभी लोग एक बार में समझ जाएंगे लेकिन अमानत की भाषा में शुरुवाती दिनों से किसानों को रैयत कहा जाता है। खतियान में रैयत का नाम बहुत महत्वपूर्ण होता है।


राजस्व थाना नंबर - राजस्व थाना नंबर से अभिप्राय है कि, आपका जमीन कौन से थाना नंबर में है। राजस्व थाना नंबर भी बहुत महत्त्वपूर्ण होता है। अगर हमें जमीन से जुड़े किसी मामलों के बारे में जानकारी थाना नंबर से ही मिलती है। जिस तरह से हर क्षेत्र में पुलिस थाना होता है, बिल्कुल उसी तरह ही जमीन की दुनिया में भी हर क्षेत्र में जमीन थाना होता है। जहाँ जमीन से जुड़े मामलों का निपटारा होता है। 


मौजा - मौजा का अर्थ होता है गाँव, अमीन अमानत और जमीन की दुनिया में गाँव को मौजा के नाम से जानते है। अगर कही भी मौजा लिखा हो तो समझ जाइएगा गाँव का नाम लिखा है या लिखना है। 


खाता नंबर - खाता नंबर से अभिप्राय है कि खाता नंबर एक संख्या है जिसे जमीन के छोटे-छोटे टुकड़े को दर्शाने में मदद करता है। अगर आपके गाँव का नक्शा आपके पास होगा या देखा होगा तो आप देखे होंगे कि गाँव का एक नक्शा बना हुआ है और नक्शे के बीच में छोटा - छोटा टुकड़ा होता है। जो चारो ओर एक पतली सी रेखा से घिरा होता है। उस घिरे हुए क्षेत्र के अंदर एक संख्या अंकित होती है जो जमीन का नंबर होता है। उसी को खाता नंबर कहते है। अगर आपके पास गाँव का नक्शा है तो आप अपने जमीन का नक्शा और खाता नंबर आसानी से देख सकते है। जमीन की दुनिया में जमीन का खाता नंबर अति महत्वपूर्ण होता है। अगर हम अपने जमीन के विषय में कही भी बात करते है या जमीन की जांच करवाते है तो आपको खाता नंबर हमेशा याद रखना होगा। क्योंकि बिना खाता नंबर के आपके जमीन का कोई भी पता नहीं लगा सकता। अगर कोई अमीन भी अगर आपके जमीन की जांच करता है या कोई अन्य काम आपके जमीन से जुड़े तो अमीन सबसे पहले आपको जमीन का नक्शा मांगेगा और उसके बाद आपसे जमीन का खाता नंबर पूछेगा और वही नंबर नक्शा में खोजकर नक्शा के हिसाब से मिलाएगा और जमीन को संतुष्ट करेगा। जमीन का खाता नंबर आपको जमीन रसीद पर और जमीन के खतियान पर भी मिल।जाएगा।


खेसरा नंबर - खेसरा नंबर भी एक तरह का संख्या है जो नक्शा में जमीन को ढूंढने में मदद करता है। ये नंबर ज्यादा चर्चित नही है लेकिन आपके ये नंबर आपके खतियान पर और जमीन के रसीद पर मिल जाएगा। 


खेत चौहदी - खेत चौहदी से मतलब है कि आपके जमीन के चारो दिशा में कौन -कौन से नंबर के खेत है और उनके मालिक कौन है आदि अन्य जानकारी के साथ उपलब्ध होती है। खेत चौहदी नक्शा पर नही मिलेगा लेकिन ये आपको जमीन के खतियान पर देखने को जरूर मिल जाएगा।


किस्म जमीन - किस्म जमीन से अर्थ है कि जमीन कई किस्म के होते है जैसे खेतिहर, भीठ, धनहर, मकान और अन्य। अगर आप जमीन की पूर्ण जानकारी लेंगे तो आपको जमीन के किस्म का भी पता चल जाएगा कि यह जमीन किस प्रकार का है और किस योग्य है। इस बात की जानकारी आपको जमीन के खतियान में और जमीन के रसीद में भी मिल जायेगी।


रकवा - रकवा का अर्थ है जमीन का क्षेत्रफल, जमीन के भाषा में क्षेत्रफल को रकवा कहते है। जमीन के भाषा में जमीन का क्षेत्रफल का इस्तेमाल क्षेत्रीय भाषानुशार किया जाता है और अन्य भाषा है जो ज्यादा लोकप्रिय है जैसे जमीन का माप एकड़ में, जमीन का माप बीघा में, जमीन का माप कट्ठा में और जमीन का न्यूनतम माप इकाई धुर में। अगर आप अपने जमीन के खतियान पर और रसीद पर देखेंगे तो आपको जमीन का क्षेत्रफल इसी भाषा में मिल जाएगा।


दखल या दखल स्वरूप - दखल से स्पष्ट है कि हमारे भाषा में दखल को।समझते है कि कोई जबरदस्ती जमीन पर कब्जा करके अपने दखल में कर लिया है। अगर जमीन इस तरह की स्तिथि में है कि जमीन कोई व्यक्ति दखल कर लिया है लेकिन जमीन का मालिक अपने मर्जी से न बेचकर बल्कि मजबूरी में बेचा है और उस जमीन पर जमीन के खरीदारी खरीदार द्वारा तय होता है उसे दखल कहते है। अर्थात जमीन मालिक के न चाहते हुए भी जमीन बेचना पड़े।


नवैयात जमाबंदी नंबर - जमाबंदी नंबर एक संख्या होता है जो जमीन को चिन्हित करता है। ये जमाबंदी नंबर आपको जमीन के खतियान पर और जमीन के रसीद पर देखने को मिल जाएगा। जमाबंदी नंबर का इस्तेमाल इंटरनेट से जमीन से जुड़ी कोई फाइल डाउनलोड करने के लिए किया जाता है। जमाबंदी नंबर से आपको जमीन के सरकारी कार्यालय में आपके सारे Records को आसानी से ढूंढ सकते है।


नीचे में मैं एक खतियान का फोटो डालकर आपको कम शब्दों में बताऊंगा ताकी अभी आप एक खतियान को देखकर अन्य खतियान को भी आसानी से देख सकते है

जमीन का खतियान कैसे देखे और जमीन का खतियान कैसे पढ़े और समझे


यहाँ ऊपर में आप वो सारी चीजें देख सकते है। जिसके बारे मैंने एक - एक करके बताया है। जमीन से जुड़े कोई भी दस्तावेज देखने के लिए और जानकारी जुटाने के लिए इतनी जानकारी आम आदमी के लिए काफी होती है। इसको देखने के बाद हमे लगता है आप इतना जरूर समझ जाएंगे कि कोई भी जमीन का कागज किसका है, जमीन कैसा है, कितना जमीन है, जमीन के अगल-बगल में कौन है, जमीन का खाता नंबर क्या है, जमीन का खेसरा नंबर क्या है, कौन से थाना का नंबर है, कौन से गाँव का जमीन है।


आगे के Article में हम बताएंगे की कैसे आप जमीन की खरीद-बिक्री सुरक्षित रूप में कर पाएंगे और जमीन के खरीदने और बेचने का प्रक्रिया क्या है?


आज के इस Article में हमने जो कुछ भी सीखा है उसे मैं निम्नलिखित रूप में क्रम से दिया है जिसे आप एक बार देखकर थोड़ा सोच सकते है और अपने यादों को मजबूत कर सकते है।


  1. अधिकार अभिलेख
  2. राजस्व
  3. रैयत का नाम
  4. राजस्व थाना नंबर
  5. मौजा
  6. खाता नंबर
  7. खेसरा नंबर
  8. खेत चौहदी
  9. किस्म जमीन
  10. रकवा
  11. दखल या दखल का स्वरूप
  12. नवैयात जमाबंदी नंबर


See You Soon | Good Bye


Article File In Jpeg


जमीन का खतियान कैसे देखे और जमीन का खतियान कैसे पढ़े और समझे


Previous Post
Next Post

My self dhiraj kumar I self run this website I,m owner and worker of this websites . Please keep us support

Related Posts